Thursday, July 1, 2010

अमेरिका में नया घर

यहाँ अमेरिका में राजेश ने ब्रेटल सर्किल में मकान ले लिया है ! २८ जनवरी २०१० को ३०४ कोर्ट नार्थ ड्रायब से इस नए घर में शिफ्ट भी कर लिया है ! वैसे दोनों घर मेल विल्ले लॉन्ग ऐलैंड में पड़ते हैं लेकिन यह स्थान उस स्थान से १० मील दूर है तथा बहुत ही सुन्दर और कुदरत के खजाने से भरा हुआ है ! यहाँ पर दो कालोनी एक साथ हैं ! कुदरती हल्की उठी हुई पहाड़ियां, मखमली घास से सजी, तथा पेड़ और पौधों से सजा सजाया लंबा चौड़ा पार्क, दोनों कालोनियों को घेरे हुए, ८ फीट का पैदल रास्ता सड़क के साथ साथ घूमने के लिए ४-५ मील की सैर करा देता है ! चारों तरफ खुला खुला बहुत दूर तक जंगल, पहाड़ियाँ, पेड़ पौधे, विभिन्न प्रकार के रंग बिरंगे फूल, शांत वातावरण ! आज पहली जुलाय हो गयी है सुबह सूरज ५.38 पर उदय हो गया था और शाम को ८.१० पर अस्त होगा ! कभी कभी धूप काफी तेज लगती है लेकिन ज्यादा तर हल्की ठंडी हवाएं मौसम को सुखद बनाए रखती है ! लाईब्रेरी नजदीक है, कास्को, पटेल ब्रदर्स की दूरी पांवों से नापी जा सकती है ! यहाँ पैदल कोई नहीं चलता केवल कुछ हम जैसे "बैठे ठाले" घूमने के लिए निकल पड़ते हैं वो भी कालोनी के घेरे के अन्दर ! मेन रोड पर कोई नजर नहीं आता ! जंगल हैं लेकिन जंगली जानवर नहीं है, हाँ केवल खरगोश, चिड़ियाँ, नजर आजाती हैं ! वे डरती नहीं हैं क्यों की लोग उन्हें प्यार करते हैं ! खरगोश तो कभी कभी आपके घर के पीछे वाले मखमली घास का स्वाद चखने के लिए आ जाते हैं ! बच्चों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाता है ! डाक्टर और दवाइयाँ बहुत मंहगी हैं इसलिए प्राय: सभी लोग मेडिकल पालिसी होल्डर हैं ! यहाँ घरेलू नौकर नहीं हैं ! घर का पूरा काम स्वयं करना पड़ता है ! वैसे कपड़ा धोने की मशीन , कपडे सुखाने की मशीन, जुठे वर्तन धोने की मशीन, सब्जी काटने की मशीन, यानी आधे से ज्यादा काम मशीने ही कर देती हैं ! नर हो या नारी सब सर्विस करते हैं, सुबह चार बजे से इनका काम शुरू हो जाता है और रात के दश बजे तक ! कार से कब आते हैं और कब जाते हैं पड़ोसी को भी पता नहीं चलता ! सभी बिजि हैं, पांच दिन काम पर और दो दिन पिकनिक सैर सपाटे के लिए ! ये लोग पैसे कमाते है मजदूर की तरह और जिन्दगी जीते हैं राजाओं की तरह ! जो कमाया शान शौकत में मौज मस्ती में खर्च कर देते हैं ! कल किसने देखा है इसकी ये लोग चिंता नहीं करते और मस्त रहते हैं !

2 comments:

  1. लिखते रहिये,सानदार प्रस्तुती के लिऐ आपका आभार


    सुप्रसिद्ध साहित्यकार व ब्लागर गिरीश पंकज जीका इंटरव्यू पढने के लिऐयहाँ क्लिक करेँ >>>>
    एक बार अवश्य पढेँ

    ReplyDelete